Home>>Breaking News>>पुलिस चले डाल-डाल, लुटेरे दौड़ें पात-पात … लुटेरों के नए चकमों से रहें सावधान
Breaking Newsताज़ाराष्ट्रिय

पुलिस चले डाल-डाल, लुटेरे दौड़ें पात-पात … लुटेरों के नए चकमों से रहें सावधान

अपराध को नियंत्रित करने के लिए अगर पुलिस नए-नए तरीकों पर लगातार अध्ययन एवं प्रयोग करती रहती है, तो लुटेरे भी कम नहीं हैं, ये भी लूट के नए-नए तरीकों को इजाद करते रहते हैं. अगर देखा जाए तो इस प्रयोग में लुटेरे ज्यादा तेज और शातिर साबित होते हैं क्योंकि जब तक पुलिस पुराने मामलों में ही अंजाम दिए गए तरीकों में उलझी रहती है, तब तक लुटेरे कुछ नई चाल आजमाते हुए नजर आते हैं.

अपराध का ट्रेंड बड़ी तेजी से बदल रहा है. वारदात के तरीकों में तेजी से हो रहा बदलाव भी पुलिस के लिए सरदर्द बनता हुआ दिखता है. रोजाना आजमाए जा रहे नए तरीकों पर ब्रेक लगाने की पुलिस प्लानिंग कर ही पाती है कि तब तक अपराधी फिर एक नया नुस्खा आजमाने उतर जाते हैं, इसीलिए आपको अलर्ट रहने की जरूरत है.

आईये आज हम आपको बताते हैं कि किस-किस तरह के नए तरीकों से अपराध को अंजाम दे रहे हैं अपराधी. इस तरह की घटना अगर आपके साथ होने को हो तो आप पहले ही सतर्क हो जाएँ.

पीछे एक्सिडेंट करके आया है

आप अपनी गाडी से अपने गंतव्य तक के सफ़र पर निश्चिन्त हो कर जा रहे होते हैं. तभी अचानक कुछ लोग पीछे से ओवरटेक कर के आते हैं और आपको घेर लेते हैं और आप पर यह आरोप लगाते हैं की आपने पीछे किसी का एक्सीडेंट किया है और भाग आये हैं. ऐसे में आप भौंचक्क हो जायेंगे और सफाई भी देने लगेंगे. वो लगातार आप पर दबाव डालते हुए ये प्रयास करेंगे की आप अपनी गाडी से उतरें. इस बिच अगर लोगों की भीड़ भी जमा हो जाती है तो वो लोगों को ऐसे बताने लगते हैं जैसे आपने सच में पीछे एक्सीडेंट कर के भागे हैं. जब आप गाडी से उतर कर लोगों की भीड़ को समझाने का प्रयास शुरू करते हैं. इसी वक्त मौके का फायदा उठाकर, उस गिरोह के कुछ लोग आपके गाडी में रखा कीमती सामान निकालकर रफ्फूचक्कर हो जाते हैं.

रोड-साइड में खड़ी लड़की से रहें सावधान

कई मामलों में लड़कियां भी लूट को अंजाम देती हैं या लडकियां किसी गिरोह का सदस्य होती है. ऐसी लडकियां सुनसान सड़क पर खड़ी होकर आपसे लिफ्ट मांगती हैं. अब ऐसे में या तो आप लिफ्ट मांगते हैं या फिर लिफ्ट न देने की बात करने लगते हैं. बस आपका वहाँ रुकना भर ही लूट की घटना को अंजाम देने के लिए काफी होता है. अगर आपने लिफ्ट दिया तो वो आगे भीड़-भाड़ वाले जगह पर जाकर आपके ऊपर यौन-उत्पीड़न का धमकी देकर, आपसे रूपये ऐंठ लेगी.

इसी तरीके में एक और नया तरीका यह भी है कि आपने जैसे ही अपनी गाडी रोक कर उस लड़की से बात की, उसी दौरान बाइक सवार की एंट्री होगी. वो लड़की से पूछेगा क्या हुआ ? तभी वो लड़की एक्टिंग करते हुए उससे कहेगी कि यह आदमी छेड़ रहा था. फिर वही बाइक सवार सौ नंबर पर कॉल करके पुलिस को बुलाने की धमकी देने लगेगा. बदनामी और जेल जाने के डर से ज्यादातर लोग कैश, मोबाइल या कभी-कभी तो एटीएम का पिन नंबर बताकर अपनी जान बचाकर वहां से निकल पाते हैं.

राह चलते नकली पुलिस वालों से रहें सावधान

नकली पुलिस बनकर लोगों को ठगने का तरीका भले ही पुराना हो गया है, लेकिन आज भी बदस्तूर जारी है. इस तरह के तरीके में, लुटेरे राह चलते महिला को रोककर उसे स्नैचिंग का खौफ दिखाते हैं, फिर खुद को पुलिस वाला बताकर हिफाजत की हमदर्दी जताते हैं. बातों में बहलाकर या लुट का भय दिखाकर, पुलिस के वर्दी वाले लुटेरे महिला से सारा गोल्ड उतरवाकर रजिस्टर में एंट्री करवाने के बहाने अदला-बदली कर देते हैं. महिला धन्यवाद देते हुए चुपचाप वहां से जब घर पहुंचती है, तब मालूम चलता है कि उसके हाथ में नकली जूलरी है.

इंश्योरेंस पॉलिसी के नाम पर ठगी

शातिर ठग पहले उस घर के रेकी करते हैं, जहां दिन में महिला अकेली है. फिर उस घर में खुद को इंश्योरेंस एजेंट बताकर पहुंचते हैं. पॉलिसी मैच्योर मनी ट्रांसफर के बहाने महिला से गारंटी के तौर पर जूलरी या उतना कैश दिखाने को कहते हैं. महिला जब गोल्ड ले आती है तो फिर पीने को पानी मांगेंगे. जैसे ही महिला पानी लेने जाएगी, उसी दौरान सारा गोल्ड लेकर चंपत हो जाएंगे. ऐसी वारदात हर छोटे-बड़े शहरों में देखने को मिल रही हैं.

बैंक में नोट गिनने में मदद के बहाने लगते हैं चूना

बैंक में कैश जमा कराते वक्त या निकालते वक्त पैसे गिन रहे हों, इसी बीच कोई अनजान शख्स गड्डी में नोट गंदे, फटे या नकली बताए तो उसके झांसे में न आएं. ऐसे लोग बैंकों और एटीएम मशीनों के आसपास सक्रिय हैं, जो नोट गिनने में मदद के बहाने उसमें से कुछ हजार खींच लेते हैं और तेजी से वहाँ से निकल लेते हैं. जब तक आप अपना कैश दोबारा गिनेंगे तो पता चलेगा की आप लूट का शिकार हो चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *