Home>>Breaking News>>काबुल हमले के लिए अमरुल्लाह सालेह ने तालिबान और पाकिस्तान को घेरा
Breaking Newsताज़ादुनिया

काबुल हमले के लिए अमरुल्लाह सालेह ने तालिबान और पाकिस्तान को घेरा

अफगानिस्‍तान में तालिबान को तगड़ी चुनौती देने वाले, अफगानिस्तान के उप-राष्‍ट्रपति रहे अमरुल्‍ला सालेह ने काबुल एयरपोर्ट पर हुए आतंकी संगठन ISIS के भीषण आत्‍मघाती हमले के मामले में तालिबान और पाकिस्‍तान, दोनों को कटघरे में खड़ा किया है. सालेह ने कहा कि हमारे पास जितने भी साक्ष्‍य हैं, उससे पता चलता है कि आईएसआईएस के लड़ाकुओं की जड़ें तालिबान और हक्‍कानी नेटवर्क से खासतौर पर जुड़ी हुई हैं. उन्‍होंने पाकिस्‍तान पर भी निशाना साधा.

काबुल हमले के तुरंत बाद, सालेह ने ट्वीट करके कहा कि हमारे पास अभी जो भी साक्ष्‍य हैं, उनसे पता चलता है कि आईएस-के सदस्‍यों की जड़ें तालिबान और खासतौर पर हक्‍कानी नेटवर्क से जुड़ी हुई हैं, जो अभी काबुल में सक्रिय है. तालिबानी भले ही आईएसआईएस के साथ अपने संबंधों को खारिज करते हैं लेकिन यह कुछ उसी तरीके से है जैसे पाकिस्‍तान, तालिबान के क्‍वेटा शूरा से करता है. तालिबान ने अपने स्‍वामी पाकिस्‍तान से बहुत कुछ सीख लिया है.

सालेह का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब आतंकी गुट आईएसआईएस के ने आत्‍मघाती हमले की जिम्‍मेदारी ली है. आईएस ने कहा काबुल में हुए इस हमले को उसके हमलावर अब्‍दुल रहमान अल लोगारी ने अंजाम दिया था. आईएस ने लोगारी की तस्‍वीर भी जारी की है. इस भीषण हमले में अब तक 90 लोग मारे गए हैं और 150 से ज्‍यादा लोग घायल हो गए हैं. मारे गए लोगों में 13 अमेरिकी सैनिक भी हैं और कई अमेरिकी सैनिक घायल भी हुए हैं.

इस्‍लामिक स्‍टेट खोरासन के आतंकी गुट ने सोशल मिडिया साईट टेलिग्राम पर एक बयान जारी करके बताया कि यह हमला मात्र 5 मीटर की दूरी से अमेरिकी सैनिकों पर किया गया जो उस समय अफगान शरणार्थियों के दस्‍तावेज बना रहे थे.

काबुल हमले के मामले में अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने ऐलान किया है कि हम आतंकियों को माफ नहीं करेंगे, उन्हें ढूंढेंगे और इसकी सजा देंगे. काबुल के हमलावरों को चेतावनी देते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा-“हम माफ नहीं करेंगे. हम नहीं भूलेंगे. हम आपको ढूंढेंगे, मारेंगे और आपके किए की सजा देंगे” राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा कि हम अफगानिस्तान से अमेरिकी नागरिकों को बचाएंगे. हम अपने अफगान सहयोगियों को बाहर निकालेंगे और हमारा मिशन जारी रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *