Home>>Breaking News>>“विश्व युवा कौशल दिवस” पर विशेष : NSDC के सहयोग से सत्या माइक्रोकैपिटल ने किया 1000 करोड़ रूपये के कौशल ऋण की घोषणा
Breaking Newsताज़ाबिजनेसराष्ट्रियशिक्षा

“विश्व युवा कौशल दिवस” पर विशेष : NSDC के सहयोग से सत्या माइक्रोकैपिटल ने किया 1000 करोड़ रूपये के कौशल ऋण की घोषणा

भारत में RBI से  पंजीकृत NBFC-MFI में से एक सत्या माइक्रोकैपिटल लिमिटेड ने NSDC के नेटवर्क ट्रेनिंग पार्टनर्स के साथ नामांकित छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) के साथ सहयोग से 1000 करोड़ रूपये के कौशल-ऋण का घोषणा किया. इस सहयोग का उद्देश्य ग्रामीण भौगोलिक क्षेत्रों में उत्पादकता में सुधार लाने और स्थायित्व पैदा करने के अतिरिक्त आकर्षक ब्याज दरों पर स्वरोजगार हेतु इछ्छुक युवाओं को कौशल ऋण प्रदान करना है. इसका लाभ व्यापक एवं विशेष तौर पर उन युवाओं को मिलेगा जो समाज में आर्थिक रूप से वंचित हैं और समाजिक-आर्थिक पिरामिड व्यवस्था में सबसे निचले स्तर पर दिखते हैं.

सत्या माइक्रोकैपिटल लिमिटेड एवं NSDC के इस पहल से भारत सरकार के “कौशल भारत मिशन” एवं “आत्मनिर्भर भारत मिशन” में भी प्रभावी रूप से योगदान होगा क्योंकि कौशल ऋण राष्ट्र के युवाओं को स्वरोजगार हेतु प्रेरित करेंगे, उनके आजीविका का मार्ग प्रशस्त करेंगे.

सत्या माइक्रोकैपिटल लिमिटेड के MD विवेक तिवारी ने बताया कि जो युवा कौशल ऋण प्राप्त करना चाहते हैं, वो हमारे कम्पनी के निकटतम ब्रांच में इस हेतु सम्पर्क कर सकते हैं. उन्हें समुचित सहायता करने को हम दृढ-संकल्पित एवं उत्साहित हैं. हमारा लक्ष्य है कि हम ज्यादा से ज्यादा युवाओं तक कौशल ऋण की सुविधा को पहुंचाएं ताकि उनका भविष्य उज्जवल हो सके.

सत्या के MD विवेक तिवारी ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि अगले तीन वर्षों में हम NSDC से प्रशिक्षित ज्यादा से ज्यादा युवाओं को कौशल ऋण देकर उन्हें आर्थिकरूप से आत्मनिर्भर बनाएं. 1000 करोड़ रूपये के कौशल ऋण के मार्फत युवाओं को “बेरोजगार से स्वरोजगार” की तरफ आगे बढायें. उन्होंने बताया कि “सत्या” का उद्देश्य है कि वर्ष 2025 तक, 5 करोड़ घरों के सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए उत्प्रेरक का काम करें, हम अभी से ही इस दिशा में तेजी से प्रयासरत हैं.

जाहिर सी बात है कि जब स्वरोजगार बढ़ेंगे तो रोजगार भी बढेगा. स्वरोजगार करने वाले युवा अपने उद्यम में और भी कई युवाओं को रोजगार देने में सक्षम होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *